जागृत को अँधेरा नहीं सताता

अँधेरा  – आँख  बंद  हो  तो  …
प्रकाश  – आँख  खुली  हो  तो  …
इसलिए  – जागृत  को  अँधेरा  नहीं  सताता  … आगे  बढ़ने के  लिए  राह  रोशन  मिलती  है .
ओ   … रात  बीत  गई  … खुशियों  की  रोशनी  मे  नहाई सुहानी  सुबह  आई  है .
सुप्रभात .