​ सामाजिक समरसता समाज की महत्वपूर्ण इकाई – राज्यपाल; बिहार  

सामाजिक समरसता समाज की महत्वपूर्ण इकाई – राज्यपाल; बिहार  

बीकानेर, 28 जनवरी 17 (मोहन थानवी)।  समाज के 27 जोड़ों के गृहस्थ जीवन में प्रवेश अवसर का साक्षी पॉलीटैक्निक कालेज मैदान में मौजूद हर चेहरा और अधिक दमक उठा जब बिहार के राज्यपाल  रामनाथ कोविंद ने समाज की पुरस्कृत चार छात्रा प्रतिभाओं को सराहा और नवदम्पतियों को आशीर्वचन कहे। ऐसा अवसर उपलब्ध करवाया भावना मेघवाल मेमोरियल ट्रस्ट ने। ट्रस्ट पूर्ववर्षों में 169 जोड़ों के परिणय सूत्र में बंधने का माध्यम बन चुका है। आज शनिवार 28/1/17 को ट्रस्ट की 2006 से चली आ रही परंपरा के अनुसार समारोह के दौरान बिहार के राज्यपाल एवं अन्य अतिथियों ने चार छात्राओं को ‘भावना अवार्ड’ से पुरस्कृत किया। राज्यपाल कोविंद ने कहा कि पीछे चलने वालों को हाथ पकड़कर आगे लाएं तथा आगे चलने वालों के साथ मिलकर आगे बढ़ें, इससे देश की सामाजिक समरसता को और अधिक बढ़ावा मिलेगा तथा भारत, दुनिया का सिरमौर बन जाएगा। आज हमने जो मुकाम हासिल किया है, इसमें हमारे राष्ट्र, समाज, परिवार और माता-पिता की भूमिका अत्यंत महत्त्वपूर्ण है। इनका कर्ज चुकाना हमारा पहला दायित्व है। उन्होंने भावना मेघवाल मेमोरियल ट्रस्ट के  सामाजिक सरोकारों के कार्यों को अनुकरणीय बताया।  सामूहिक विवाह समारोह में प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष भूमिका निभाने वाले सभी लोगों को  धन्यवाद का पात्र बताते हुए कहा कि, वे समाज सुधार के कार्य में भागीदार बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि ट्रस्ट द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्टता हासिल करने वाली बेटियों को सम्माानित किया जा रहा है, यह सभी के लिए प्रेरणादायी है।

            केन्द्रीय वित्त एवं कॉरपोरेट अफेयर्स राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल ने बाबा रामदेव, बाबा साहेब भीम राव आम्बेडकर और मीरा बाई को सामाजिक समरसता के प्रवर्तक बताया। उन्होंने ‘सगी थारी-म्हारी करणी सोरी’ लोकगीत के माध्यम से सामाजिक समरसता का संदेश दिया।

            मेघवाल ने बताया कि राज्य में दसवीं की परीक्षा में प्रथम तथा जिले में 10वीं एवं 12वीं की परीक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली एससी छात्रा को प्रतिवर्ष ‘भावना अवार्ड’ दिया जाता है। इसके अलावा जयपुर की कानोड़िया कॉलेज में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली छात्रा को भी यह पुरस्कार दिया जाता है। ट्रस्ट के रविशेखर मेघवाल ने स्वागत उद्बोधन दिया।

            इससे पहले भावना मेघवाल मेमोरियल ट्रस्ट की प्रधान ट्रस्टी पाना देवी मेघवाल ने बिहार के राज्यपाल तथा उनकी पत्नी सविता पुरी का अभिनंदन किया। पुखराज शर्मा के नेतृत्व में बालिकाओं ने स्वागत गीत की प्रभावमयी प्रस्तुति दी गई। बिहार के राज्यपाल ने ट्रस्ट को भगवान बुद्व की प्रतिमा भेंट की। ट्रस्ट की ओर से उन्हें विजय स्तम्भ का प्रतीक चिन्ह प्रदान किया गया।

            मंच पर केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्य मंत्री कृष्ण पाल गुर्जर, महापौर नारायण चौपड़ा, कबीर पंथी  नानकनाथ महाराज, एआईसीटी दिल्ली के वाइस चेयरमैन डॉ. एम. पी. पूनिया, ट्रस्टी एस. पी. आर्य, एन. एल. वर्मा मौजूद थे।

चार छात्राओं को मिला ‘भावना अवार्ड’

            समारोह के दौरान बिहार के राज्यपाल एवं अन्य अतिथियों ने चार छात्राओं को ‘भावना अवार्ड’ से पुरस्कृत किया। दसवीं बोर्ड में 98 प्रतिशत अंक प्राप्त कर राज्य में प्रथम स्थान पर रहने वाली अनुसूचित जाति वर्ग की छात्रा सवाईमाधोपुर की प्रियंका रमन, बारहवीं में 95.40 अंक प्राप्त कर जिले में प्रथम रहने वाली एससी की छात्रा कृतिक चंदन तथा दसवीं में 92.33 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले में प्रथम रहने वाली भारती चाचड़ के अलावा कानोड़िया कॉलेज जयपुर में बीए टॉप करने वाली इस्मां खां को भावना अवार्ड से नवाजा गया। पुरस्कृत छात्राओं को ग्यारह हजार रूपये, स्मृति चिन्ह तथा प्रमाण-पत्र के साथ बाबा साहेब की 125वीं जयंती के अवसर पर भारत सरकार द्वारा जारी 125 और 10 रूपये के विशेष सिक्के भी भेंट किए गए।

            इस अवसर पर भावना मेघवाल मेमोरियल ट्रस्ट की सुशीला देवी, मनीषा मेघवाल, अमित जनागल, सहीराम दुसाद, नंद किशोर सोलंकी, विजय आचार्य, बिहारी बिश्नोई, रामगोपाल सुथार, अशोक भाटी, सुरेन्द्र सिंह शेखावत, भंवर पुरोहित, हजारीमल सारस्वत सहित परिणय सूत्र में बंधने वाले दूल्हे-दुल्हन एवं उनके परिजन सहित बड़ी संख्या में आमजन मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन ज्योति प्रकाश रंगा एवं दिलीप पड़िहार ने किया।

एस्पायर होम फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड का शुभारम्भ

बीकानेर 21/1/17 ( बहुभाषी डेस्क )।एएचएफसीएल की बीकानेर शाखा ‘दूसरी मंजिल, प्लॉट नं. 72, पंचसती सर्किल, सादुलगंज, चाणक्य होटल के पीछे का उद्घाटन  कल्पेश ओझा, सीएफओ, एएचएफसीएल, एवं  अमित सरीन, राजस्थान स्टेट हेड, एएचएफसीएल की उपस्थिति में स्वामी केशवानन्द कृषि विश्वविद्यालय की प्रो. डा. विमला मेघवाल, नगर विकास न्यास, बीकानेर के चेयरमैन महावीर रांका ने किया। इस लांच के साथ ही राजस्थान की सभी शाखाएं परिचालन में आ जाएंगी।  इस अवसर पर एएचएफ सीएल के अन्य वरिष्ठ कार्यकारी अधिकारी भी उपस्थित थे।  बीकानेर में एएचएफसीएल के प्रथम ग्राहक को पहला चेक भी सौंपा गया। (शाखा प्रबन्धक ब्रजलाल महला का मोबाइल नं. 9828264218 है)।

 देश की एकमात्र राष्ट्रीय अफोर्डेबल हाउसिंग फाइनेंस कम्पनी एस्पायर होम फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (एएचएफ सीएल) ने विशेष तौर पर निम्न और मध्यम आय (एलएमआई) की आवासीय आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए राजस्थान में आक्रामक तरीके से प्रवेश करने की घोषणा की है और इससे सरकार की ”वर्ष 2022 तक सभी को आवास” महत्वपूर्ण योजना को पूरा करने में योगदान दे सकेंगे। कल्पेश ओझा, सीएफ ओ के अनुसार एएचएफसीएल भारत की एकमात्र अफोर्डेबल हाउसिंग फायनेंस कम्पनी है जिसकी उपस्थिति राष्ट्रीय स्तर पर है, हमे विश्वास है कि हम ”वर्ष 2022 तक सभी के लिए आवास” मिशन को पूरा करने में एक सार्थक भूमिका निभाएंगे।”

मरु व्यवसाय चक्र के रजत जयन्ती वर्ष के पहले अंक का विमोचन

​बीकानेर 21/1/17 ( बहुभाषी डेस्क ) । त्रैमासिक शोध पत्रिका मरु व्यवसाय चक्र के रजत जयंती वर्ष के पहले अंक का विमोचन सूक्ष्म, लघु एवम  माध्यम उद्योग मंत्रालय के राष्ट्रीय बोर्ड के सदस्य रजनीश गोयनका ने किया। जिला उद्योग संघ के सभागार में आयोजित मेकिंग बीकानेर एंटरप्रिन्योरल समिट और वर्कशॉप में हुए विमोचन के दौरान  मंत्रालय के राष्ट्रीय बोर्ड के कंसल्टटेंट और लीन इंडिया कंसल्टिंग के मैनेजिंग डायरेक्टर अशोक पुरी और छत्तीसगढ़ पूर्व लोकसभा सदस्य प्रदीप गाँधी सहित स्टेट बैंक ऑफ़ इण्डिया के रीजनल मैनेजर  सौरभ जैन, नेचुरल आयल के एम डी  विजय नौलखा ,उद्योगपति  कमल कल्ला और  सुभाष मित्तल मौजूद थे। पत्रिका के प्रधान सम्पादक प्रो. (डॉ.) अजय जोशी ने कहा कि यह पत्रिका विगत 25 वर्षों से उद्योग और व्यवसाय जगत से जुड़े लोगों का मार्गदर्शन करती आई हैं।  इस कार्यक्रम का संयोजन   एमएसएमइ डेवलपमेंट फौरम के उप कार्यकारी अधिकारी सीएस चेतन पणिया ने किया। इस  अवसर पर बाफना अकादेमी के सी ई ओ डॉ. पी एस. वोहरा,बीकानेर सी एस चैप्टर के चेयरमैन सीएस  नारायण डागा सहित  बड़ी संख्या में उद्योगपति, व्यवसायी, नये उद्यमी और विद्यार्थी उपस्थित थे। 

​नारायण डागा ने बीकानेर सीएस चैप्टर चेयरमैन का पदभार सम्भाला

बीकानेर 21/1/17 ( बहुभाषी डेस्क ) । भारतीय कम्पनी सचिव संस्थान नई दिल्ली के उत्तर क्षेत्रीय परिषद् के अंतर्गत आने वाले बीकानेर चैप्टर के वर्ष २०१७ के लिए सी. एस. नारायण डागा चेयरमैन निर्वाचित हुए हैं। डागा सी. एस. के साथ साथ एल एल बी, कॉम, एम.कॉम और डिप्लोमा इन लेबर ला उपाधिधारक भी हैं।. निवर्तमान चेयरमैन सी.एस. सुरेन्द्र हर्ष ने  डागा को शुभकामनाएं दी और आशा व्यक्त करते हुए कहा कि उनकी लीडरशिप में बीकानेर चैप्टर निरंतर विकास करेगा और नये आयाम स्थापित करेगा। डागा के साथ साथ सी.एस नीतेश रंगा वाइस चेयरमैन,सी.एस.रीना बाला सेक्रेटरी और सी.एस.पुरषोत्तम व्यास कोषाध्यक्ष निर्वाचित हुए। डागा ने कहा कि वे कम्पनी सचिव पेशे को नई ऊँचाइयों तक ले जाने हेतु हर संभव प्रयास करेंगे  । सी.एस.कोर्स करने वाले छात्रों को चैप्टर पर समुचित मार्गदर्शन दिया जाएगा. इस कोर्स को कर चुके व्यक्तियों को प्लेसमेंट में सहयता कि जायेगी। 

व्यंग्यकार बुलाकी शर्मा के व्यंग्य संग्रह ‘आप तो बस आप ही हैं!’ का लोकार्पण 15/1/17 को

​बीकानेर/ 15 जनवरी/17 ( बहुभाषी डेस्क ) ।कहानीकार-व्यंग्यकार बुलाकी शर्मा के व्यंग्य संग्रह ‘आप तो बस आप ही हैं!’ का लोकार्पण मुक्ति संस्था द्वारा रविवार 15 जनवरी 17 को पुष्करणा भवन में शाम 5.45 बजे होगा। मुक्ति के सचिव कवि-कहानीकार राजेन्द्र जोशी ने बताया कि हाल ही में केंद्रीय साहित्य अकादेमी नई दिल्ली के सर्वोच्च पुरस्कार से सम्मानित कहानीकार बुलाकी शर्मा की इस व्यंग्य-कृति का लोकार्पण कार्यक्रम के अध्यक्ष वरिष्ठ उपन्यासकार मधु आचार्य ‘आशावादी’, मुख्य अतिथि राजस्थान वेटेनरी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. ए. के. गहलोत तथा विशिष्ट अतिथि उप वन संरक्षक डॉ. शलभ कुमार करेंगे। लोकार्पण समारोह के समन्वय कवि नवनीत पाण्डे हैं तथा कृति सूर्य प्रकाशन मंदिर द्वारा प्रकाशित है। समारोह में मुख्य वक्ता कवि-आलोचक डॉ. नीरज दइया रहेंगे।ज्ञातव्य है कि शर्मा के इससे पूर्व तीन व्यंग्य संग्रह ‘दुर्घटना के इर्द-गिर्द’, ‘रफूगीरी का मौसम’ तथा ‘चेखव की बंदूक’ तथा राजस्थानी में दो व्यंग्य संग्रह ‘कवि, कविता अर घरआळी’, ‘इज्जत में इजाफो’ प्रकाशित हो चुके हैं। 

आशावादी का सृजन साधारण मनुष्य को असाधारण कीओर ले जाने वाला सृजन : अर्जुनदेव चारण

तीन प्रमुख विधा पुस्तकों का एक साथ लोकार्पण राजस्थानी साहित्य जगत में एक कीर्तिमान 

आशावादी के राजस्थानी कहानी संग्रह हेत रौ हैलो, कविता संग्रह अेक पग आभै
मायं तथा उपन्यास भूत भूत रौ गळो मोसै का लोकार्पण अतिथियों ने किया।

बीकानेर
 साहित्य जीवन मूल्यों की स्थापना करते हुए सृष्टि का विकास और मनुष्य का
उत्थान करता है यह कहना था कवि-नाटककार अर्जुनदेव चारण का। कवि अर्जुनदेव
गुरूवार को साहित्यकार मधु आचार्य आशावादी की तीन राजस्थानी पुस्तकों के
लोकार्पण अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में विचार व्यक्त कर रहे थे। इस
मौके पर उन्होंनें कहा कि आशावादी का सृजन साधारण मनुष्य को असाधारण की
ओर ले जाने वाला सृजन है। समाजसेवी रामकिशन आचार्य की अध्यक्षता तथा
कहानीकार रामस्वरूप किसान के आतिथ्य में आयोजित लोकार्पण समारोह में
आशावादी के राजस्थानी कहानी संग्रह हेत रौ हैलो, कविता संग्रह अेक पग आभै
मायं तथा उपन्यास भूत भूत रौ गळो मोसै का लोकार्पण अतिथियों ने किया।
समारोह के दौरान कहानीकार रामस्वरूप किसान ने विचार व्यक्त करते हुए कहा
कि आशावादी अपनी रचनाओं के माध्यम से नकारात्मकता को सकारात्मकता में
बदलने का प्रेरक कार्य कर रहें है। अध्यक्षता करते हुए रामकिशन आचार्य ने
कहा कि राजस्थानी साहित्य और भाषा के मान को कायम रखने के लिए हम सबको
मिलकर प्रयास करने चाहिए। इससे पूर्व अतिथियों का स्वागत धीरेंद्र आचार्य
ने किया कवि राजेन्द्र जोशी ने आशावादी का सृजन परिचय प्रस्तुत किया।
समारोह में कवि डॉ.नीरज दइया तथा डॉ.सत्यनारायण सोनी ने कृतियों पर
पत्रवाचन किया। इस मौके पर विद्यासागर आचार्य, पूर्व महापौर भवानी शंकर
शर्मा व आनंद वि.आचार्य को कृतियां भेंट की गई। समारोह में अतिथियों के
साथ ही साहित्यकार मधु आचार्य आशावादी का धरणीधर ट्रस्ट और विभिन्न
संस्थाओं की ओर से सम्मान किया गया। समापन पर अनुराग हर्ष ने आभार जताया।
समारोह में अनेक गणमान्यजन मौजूद थे।                                         –     ( हेल्लो बीकानेर)


पीबीएम; बीकानेर में आउटडोर का साप्ताहिक शिड्यूल

बीकानेर। संभाग के सबसे बड़े पीबीएम अस्पताल में चेकअप के लिए पड़ोसी राज्यों से भी मरीज आते हैं। ऐसे दूरदराज गांव शहरों से पीबीएम आने वालों के लिए यह जानकारी महत्वपूर्ण है जिसे हम साझा कर रहे हैं। 

MOPD

सोमवार I यूनिट

यूनिट हैड R P अग्रवाल

JK मील पर. सिरोही दयाल शर्मा नरेन्द्र डारा, कपिल

F & J Ward
मंगलवार II यूनिट

यूनिट हैड V B सिंह

B L मीणा, संजय बेनीवाल, सुहाश, हरीश

H & K ward
बुधवार III यूनिट

यूनिट हैड L A Gauri

रोहिताश कुलरिया, हनुमान जयपाल, कुलदीप सैनी, श्रवण

E & I ward
गुरूवार IV यूनिट

यूनिट हैड B K Gupta

हरदेव नेहरा, श्याम लाल मीणा, मनीष

F & J ward
शुक्रवार V यूनिट

यूनिट हैड संजय कोचर

विजय तुंदवाल, N K गहलोत, मनोज मीणा, उम्मेद सिंह

H & K ward
शनिवार VI यूनिट

यूनिट हैड पिपलीवाल

S K वर्मा, परवेज समेजा, विवेक उज्जवल

E & I ward
SOPD

1 डॅा॰ अशोक परमार, भूपेन्द्र शर्मा, केदारनाथ, अनवर, संदीप

OPD सोमवार

O.T. बुध, शनि

वार्ड- B & X
2. मो. सलीम, S K डांगी, ईशरदान चारण, अजय गाँधी

OPD मंगल, 1 रवि

OT सोम गुरू

वार्ड- C & X
3. R K काजला, दीवानसिंह, धर्मवीर, महावीर

OPD बुध, II रवि

O. T. मंगल व शुक्र
4. अशोक कुमार लूणीया, प्रभु दयाल, महेन्द्र

OPD गुरू, 3 रवि

OT सोम व शुक्रवार

वार्ड- B & Y
5. मनोहर दवाँ , योगेन्द्र

OPD शुक्र व 4 रवि

OT मंगलवार

वार्ड- B & X
6. अजय गाँधी, संजय शर्मा

OPD शनिवार व 5 रवि

OT गुरूवार
गायनिक

I. सुदेश अग्रवाल

OPD:सोम 1,3,5 शुक्र 1,रवि

ANC =बुधवार

II. मधु भट्ट

OPD:मंगल 1,3,5 शनि दूसरा रविवार 

ANC =शुक्रवार

III. कमलेश यादव

OPD:बुधवार 2,4 शुक्र & 3,5 रविवार

ANC =सोमवार

IV. संतोष खजोटिया

OPD:गुरूवार 2,4 शनि & 4 रवि

ANC =मंगलवार
Eye

Unit I मंगल गुरूवार शनि 1,3,5 रविवार

Unit II सोम बुधवार शुक्र 2,4 रविवार
ENT

Unit I सोम बुधवार Dr. Deepchand

Unit II मंगल गुरूवार शनि Dr. Gaurav Gupta
रह्यूमेटोलोजी डा. गौरी मंगल 10-12 बजे

Neurophysician

अभिषेक कोचर

बुध व शनि

Neurosurgery

Dr. Sushil Acharya मंगलवार

Dr. Dinesh Sodhi गुरूवार

************

नेफ्रोलोजी

डा. जितेन्द्र फलोदिया

 शुक्रवार

गेस्ट्रो

सोम व गुरू

आशीष जोशी व सुशील फलोदिया

B M D = सोम मंगल बुध

गिरीश प्रभाकर  मंगल व शनि

**********************

ORAHO

डा. खजोटिया – OPD मंगल बुध गुरु शनिPD & OT सोम शुक्र

डा. BL चौपड़ा – सोम शुक्र OPD & OT गुरु शनिP

डा. रामप्रकाश लोहिया – opd सोम बुध & OT मंगल गुरु शुक्र

डा. प्रताप सिंह – opd सोम बुध शनि & मंगल शुक्र OT

डा. विनीत अरोड़ा – मंगल शुक्र OPD & OT सोम गुरु शनि

डा. सुरेन्द्र – मंगल गुरु शुक्र OPD & OT बुध शनि

डा. समीर – opd बुध गुरु शनि & सोम मंगल

डा. लक्ष्य – गुरु शनि opd & OT

( आकस्मिक परिवर्तन संभव )