भगवान परशुराम जयंती पर सजी दीपमाला; पूजा-भक्ति संगीत आज

बीकानेर 27 अप्रैल 2017  परशुराम जयंती की पूर्व संध्या पर गुरुवार को सादुल सिंह सर्किल,गोकुल सर्किल,मूर्ति सर्किल जे.एन. वी कॉलोनी को दीपमालाओं से सजाया गया। आतिशबाजी कर परशुराम की जय जयकार का उद्धोष किया।  विप्र फाउंडेशन(महिला प्रकोष्ठ) की जिला अध्यक्ष सुनीता गौड़, जिला अध्यक्ष भंवर पुरोहित, छः न्याति ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष मोहन लाल जाजड़ा,राजस्थान ब्राह्मण महासभा के जिला देहात अध्यक्ष विश्वनाथ गौड़,नौरंग लाल गौड़,प्रह्लाद जोशी,पं गायत्री प्रसाद,कामिनी भोजक,जितेंद्र भोजक  , रविंद्र जाजड़ा,   नवरत्न पप्पू पुलिसवाला, राजू पारीक,शिव रतन  ओझा    ने दीपमालाओं से सर्किल को सजाया गया।  ढोल नगाड़ो के साथ विष्णु के छठे अवतार भगवान परशुराम की जय जयकार से सर्किल क्षेत्र गूंज उठे।

प्रकोष्ठ अध्यक्ष सुनीता गौड़ ने बताया की ब्राह्मण समाज के कुल देवता भगवान परशुराम जयंती पर शुक्रवार को रानी बाजार गौड़ सभा भवन और तुलसी सर्किल पर भगवान परशुराम मंदिर में सुबह 10:30 बजे पूजा अर्चना और भक्ति संगीत का कार्यक्रम  होगा। कार्यक्रम में ब्राह्मण समाज के 16 घटक के अध्यक्षों सहित गणमान्य लोगों आमन्त्रित किया है।

सेवा आश्रम के बच्चों ने किया सिंगर नवीन आचार्य की वेबसाइट. का  लोकार्पण

बीकानेर।  इंडियन ऑयडल -२ स्व. संदीप आचार्य के छोटे भाई नवीन आचार्य की वेबसाइट www.naveenacharya.com का लोकार्पण २७ अप्रेल को पवनपुरी स्थित सेवा आश्रम के बच्चों ने किया । इस अवसर पर अमित, मुकेश, शिव, अशोक, महेन्द्र सागर, दिनेश कुमार ओझा, राजेश छंगाणी, राजेश के ओझा, रामसहाय हर्ष, जयदीप उपाध्याय, विकास शर्मा, नितेश ओझा, दिपक देराश्री, पंकज बीस्सा आदि संगीत जगत के गणमाण्य उपस्थित थे। आचार्य ने बताया कि लोकार्पित वेबसाइट पर उनके राजस्थानी फिल्मों में गाए व भारत में २००० से भी ज्यादा स्टेज परर्फोमेंस के विडियों और ऑडियो की जानकारी उपलब्ध रहेगी।नवीन ने बताया की भारत की बेटियाँ को समर्पित  एलबम ‘ये बेटियाँ’ जो उनके द्वारा लिखा व शिवानी जोशी के साथ गाया  जल्द ही रिलीज होगा। इस एलबम में संगीत अमोल डांगी व सुमेर डांगी ने दिया है।

नगर विकास में युवाओं की भूमिका महत्वपूर्ण

बीकानेर 26 /4/17।  बीकानेर के विकास में युवाओं का योगदान महत्वपूर्ण है। नगर में युवा शक्ति को विकास के लिए सदैव आगे रहने की परंपरा है। वक्ताओं ने ऐसे विचारों के साथ इतिहास के पन्नों में दबे कुछ अनचिन्हें वाकिये भी साझा किए। ये हुआ बीकानेर 530वां स्थापना समारोह के दूसरे दिन बुधवार को राव बीकाजी संस्थान, जिला प्रशासन एवं नगर विकास न्यास के संयुक्त तत्वावधान में नरेन्द्र सिंह ऑडीटोरियम में ‘बीकानेर के विकास में युवाओं का योगदान’ विषयक विचार-गोष्ठी में।  अध्यक्षता महापौर नारायण चौपड़ा ने की। उनका कहना था कि बिना युवाओं की सक्रिय भागीदारी के वांछित परिणाम नहीं आ सकते हैं। मुख्य अतिथि महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. भागीरथ सिंह बिजारणियां, विशिष्ट अतिथि वरिष्ट साहित्यकार बुलाकी शर्मा के सानिध्य में हुए इस आयोजन में  बीकानेर और युवाओं से जुड़े अनेक मुद्दे भी उभर कर सामने आए।  अतिथियों एवं वक्ताओं का स्वागत डॉ. गिरिजाशंकर शर्मा ने किया। मुख्य अतिथि बिजारणियां ने कहा कि बीकानेर की माटी की महक को हमें दूर दूर तक ले जाना है। यदि युवा शक्ति अपने कार्यों का सही और उचित प्रबंधन करे तो वह दिन दूर नहीं जब सफलताएं मिलेगी।  विश्वविद्यालय के संदर्भ पर चर्चा करते हुए कुलपति ने कहा कि इसके कार्यों में युवाओं की भागीदारी निर्धारित होनी चाहिए।  पूर्व में विषय प्रवर्तन साहित्यकार डॉ. रेणुका व्यास ने किया व वर्तमान संदर्भों में युवाओं की शिक्षा और संस्कारों पर विशद चर्चा करते हुए कहा कि शिक्षा में प्रबंध व्यवस्था की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है।कार्यक्रम में डॉ. उषाकिरण सोनी, डॉ. बसंती हर्ष, डॉ. अजय जोशी, डॉ. नसिंह बिन्नाणी, डॉ. ब्रह्माराम चौधरी, डॉ. भंवर भादाणी, नासिर जैदी, डॉ. प्रभा भार्गव, इसरार हसन कादरी, डॉ. गिरिजा शंकर शर्मा, डॉ. कृष्णा आचार्य, डॉ. संजू श्रीमाली, नदीम अहमद नदीम, डॉ. मेघना शर्मा, सरदार अली परिहार, डॉ. नमामी शंकर आचार्य आदि ने विचार व्यक्त किए। अतिथियों का संस्था द्वारा शाल ओढ़ाकर सम्मान किया गया तथा स्मृति चिह्न भेंट किए गए ।कार्यक्रम में साहित्यकार आनंद वी. आचार्य, एन.डी.रंगा, डॉ. नीरज दइया, विपिन पुरोहित, हजारी देवड़ा, महेंद्र जैन, हरीश बी. शर्मा, विजय खत्री, रामलाल सोलंकी, मुरली मनोहर माथुर, ब्रजेंद्र गोस्वामी, बी.डी. हर्ष, बी. एल. नवीन आदि उपस्थित थे।  संचालन कवि राजेन्द्र जोशी ने किया। 

— मोहन थानवी